Facts about International Space Station (ISS) in Hindi

Facts About International Space Station

Facts about International Space Station

पिछले कुछ दशकों में विज्ञान ने जो प्रगति की है वो काबिले तारीफ है। हमारे वैज्ञानिक प्रतिदिन बहुत सारी नई चीजों का आविष्कार करते है, जो आने वाले वक्त में इंसानी सभ्यता के लिए बहुत उपयोगी सिद्ध और कारगर साबित होते है। जिसके उदाहरण हम अपनी रोजाना की लाइफ में देखते हैं, आज हम वैज्ञानिक खोजों से इतने घिरे हुए हैं की उनके बिना रहना बहुत मुश्किल है। विज्ञान हमें ज़िंदगी जीने का आसान तरीका बताने के साथ-साथ हमारी समझ को भी प्रभावी बनाती है। Facts about International Space Station.

आप यह भी पढ़ें:-

स्पेस साइन्स क्या है?

पिछले कुछ समय से हमने विज्ञान की मदद से हमारे अंतरिक्ष को काफी गहराई से समझने का प्रयास किया, जिसके लिए हमने कई ऐसे उपकरण बनाए जो आज से 1 सदी पहले तक बिलकुल भी संभव नहीं लगते थे। लेकिन आज कई ऐसे आविष्कार है जिन्होंने हमें काफी Advance Civilization की तरफ कदम रखने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

इन्हीं आविष्कारों से हमने एक ऐसे उपकरण का निर्माण किया, जो हमें अन्तरिक्ष को बारीकी से समझाने में बहुत उपयोगी सिद्ध होगा। हम बात कर रहे है International Space Station की, जो विज्ञान का एक ऐसा उदाहरण है जिसने हमारी समझ और ज्ञान को बहुत अच्छी तरीके से प्रदर्शित किया है।

आइए जानते है हम की International Space Station आखिर है क्या? और यह कैसे काम करता है?

अन्तरिक्ष की गहराइयों और हमारे सौरमंडल को विस्तार से समझने के लिए वैज्ञानिकों को अन्तरिक्ष में एक ऐसी जगह की जरूरत पड़ी जहां से अन्तरिक्ष को और अधिक बारीकी से Explore किया जा सके। तभी वैज्ञानिकों ने International Space Station की Theory को प्रस्तुत किया और International Space Station की नींव रखी गई.

International Space Station की स्थापना 20 नवम्बर, 1998 में की गई. 18 देशों के एक ग्रुप ने इस Space Station की स्थापना करने में मदद की।

शुरुआत में इसके पार्ट्स धरती पर बनाए गए और बाद में इन्हें 136 अलग-अलग Spacecraft के द्वारा अन्तरिक्ष में भेजा गया। यह आज तक का सबसे महंगा अन्तरिक्ष उपकरण है, जिसे बनाने में तकरीबन 160 बिलियन डॉलर (11 लाख करोड़ रुपए) का खर्चा आया। साल 2000 में इस स्पेस स्टेशन को इन्सानों के रहने योग्य बनाया गया। इसके बाद लगातार स्पेस स्टेशन पर इन्सानों का आना-जाना लगा रहता है, एक समय में अधिकतम 6 अन्तरिक्ष यात्री ही इस पर रह सकते है।

आइए जानते है International Space Station से कुछ Facts जो बहुत ही Amazing है (Facts about International Space Station)।

  1. आज तक19 देशों के 240 अन्तरिक्ष यात्रियों ने International Space Station का दौरा किया है.
  2. Space Station लगभग 7.65 किमी/घंटा की गति से घूमता हुआ हर 90 मिनट में धरती का एक चक्कर लगाता है, इस प्रकार 24 घंटों में यह पृथ्वी के 16 चक्कर लगाता है। यानि Space Station में रहने वाले अन्तरिक्ष यात्रियों के लिए हर दिन 16 सूर्योदय और 16 सूर्यास्त होते है।
  3. Peggy Whitson Space Station पर सबसे ज्यादा समय बिताने वाले Astronaut है, इन्होने 2 सितंबर, 2017 को 665 दिन स्टेशन पर बिताकर एक रिकॉर्ड बनाया।
  4. Space Station में रहने और काम करने के लिए 6 बड़े कमरों जितनी जगह है, इसके अलावा इसमें 6 Sleeping Quarter, Two Bathrooms, एक Gym और एक चारों तरफ देखने के लिए बड़ी खिड़की है।
  5. माइक्रोग्रैविटी में मानव शरीर में Muscle and Bone Mass के नुकसान को कम करने के लिए अंतरिक्ष यात्री दिन में कम से कम दो घंटे काम करते हैं। जिससे उनके शरीर का संतुलन बना रहे।
  6. पूरे Space Station पर 8 मील लंबाई जितनी Wires, इलैक्ट्रिक पावर सिस्टम को जोड़ती है।
  7. छह अंतरिक्ष यान एक साथ Space Station से जुड़े सकते हैं।
  8. कोई भीअंतरिक्ष यान पृथ्वी से लॉन्च होने के छह घंटे बाद Space Station पर पहुंच सकता है।
  9. पूरे Space Station में लगभग 350,000 Sensor लगे हुए है जो Space Station और उसमें रहने वाले Astronauts को स्वस्थ और सुरक्षा प्रदान करते है।
  10. Space Station पर 50 से अधिक कंप्यूटर सिस्टम को Control करते हैं।

आज हमने Facts about International Space Station आर्टिक्ल पढ़ा। जिसमें बहुत कुछ ज्ञान की बातें हमें सीखने को मिली।

सोर्स-नासा

Only Knowledge
The Knowledge Darshan ब्लॉग आप सभी की मदद के लिए बनाया गया है। इस ब्लॉग पर आपको हम नई से नई जानकारी देने का प्रयास करते है जो आपको और जगह दूसरी भाषा में मिलती है। हमारी पूरी टीम हर एक आर्टिक्ल के लिए कड़ी मेहनत करती है। पूरी रिसर्च और आंकड़ों के साथ हम किसी भी जानकारी को आप तक पहुंचाते है। अब हमें आपके प्यार और आशीर्वाद की आवश्यकता है ताकि हम अपना काम पूरे जोश और मेहनत से कर सकें। हमारे साथ जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।